केजरीवाल के डेनमार्क दौरे को सरकार ने नहीं दी मंजूरी, जलवायु सम्मेलन लेना था हिस्सा

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल डेनमार्क में होने वाले सी-40 जलवायु सम्मेलन (C-40 Climate Change Event) में शामिल नहीं हो पाएंगे. विदेश मंत्रालय ने अरविंद केजरीवाल को इस दौरे की मंजूरी देने से इनकार कर दिया है. इसे लेकर सियासत गरमाई हुई है.

विदेश मंत्रालय ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सूचित किया, ‘आपने डेनमार्क में होने वाले C-40 कार्यक्रम के लिए पॉलिटिकल क्लियरेंस मांगा था. आपका पॉलिटिकल क्लियरेंस खारिज कर दिया गया है.’ उधर, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने यह बताया कि किस वजह से दिल्ली के मुख्यमंत्री के इस दौरे को रद्द किया गया है.

प्रकाश जवाड़ेकर ने कहा, ‘ये मेयर लेवल का कॉन्फ्रेंस है और बंगाल के मंत्री इसमें भाग लेने जा रहे हैं.’ बता दें कि अरविंद केजरीवाल को 9-12 अक्टूबर तक डेनमार्क के कोपेनहेगेन में पर्यावरण पर होने वाले इस C-40 कार्यक्रम में हिस्सा लेना था. केजरीवाल के इस दौरे को मंजूरी नहीं मिलने को लेकर आम आदमी पार्टी (AAP) मोदी सरकार पर हमलावर है.

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने इसे ‘बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण’  बताते हुए कहा, ‘इससे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की छवि धूमिल होगी. लोग क्या सोचेंगे कि हमारी संघीय संरचना कैसे काम करती है. केंद्र सरकार हमारे खिलाफ क्यों है?’ 

बता दें कि 22 सितंबर को दिल्ली सरकार ने एक आधिकारिक बयान में कहा था कि मुख्यमंत्री द्वारा दिल्ली में वायु प्रदूषण कम करने के ‘आप’ सरकार के प्रयासों और अनुभव को शिखर सम्मेलन में साझा करने की उम्मीद थी. ‘आप’ सरकार के प्रयासों की बदौलत दिल्ली के वायु प्रदूषण में 25 प्रतिशत तक की कमी आई है.

loading...