तीनों वैज्ञानिकों को संयुक्त रूप से मिला कैमिस्ट्री का नोबेल पुरस्कार

नोबेल फाउंडेशन ने वर्ष 2019 के लिए कैमिस्ट्री के नोबेल पुरस्कार विजेताओं की घोषणा कर दी है. स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में अमेरिका के जॉन बी. गुडइनफ (John Goodenough), इंग्लैंड के एम. स्टैनली विटिंघम (Stanley Whittingham) तथा जापान के अकीरा योशिनो (Akira Yoshino) को संयुक्त रूप से रसायन विज्ञान का वर्ष 2019 का नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize) दिया गया है. इन्हें लिथियम-आयन बैटरी का विकास करने के लिए ये पुरस्कार दिया गया है. 

इससे पहले मंगलवार को भौतिकी (Physics) का नोबेल प्राइज तीन वैज्ञानिकों जेम्स पीबल्स, मिशेल मेयर और डिडिएर क्वेलोज को प्रदान किया गया. जेम्स पीबल्स  को “भौतिक ब्रह्माण्ड विज्ञान में सैद्धांतिक खोजों के लिए”,  मिशेल मेयर और डिडिएर क्वेलोज़ को “एक सौर-प्रकार के तारे की परिक्रमा करने वाले एक्सोप्लेनेट की खोज के लिए.”  संयुक्त रूप से  नोबेल प्राइज मिला है. आधी पुरस्कार राशि जेम्स पीबल्स को दी जाएगी और बाकी आधी दो अन्य वैज्ञानिकों में बराबर-बराबर बांटी जाएगी.

सोमवार को अमेरिका के विलियम कायलिन और ब्रिटेन के  ग्रेग सेमेन्ज़ा और पीटर रैटक्लिफ को चिकित्सा के क्षेत्र में नोबेल प्राइज की घोषणा की गई थी. इन लोगों ने पता लगाया कि ऑक्सीजन का स्तर किस तरह से हमारे सेलुलर मेटाबोलिज्म और शारीरिक गतिविधियों को प्रभावित करता है. वैज्ञानिकों की इस खोज से एनीमिया, कैंसर और अन्य बीमारियों के खिलाफ लड़ाई में नई रणनीति बनाने का रास्ता साफ हुआ.

बता दें 14 अक्टूबर तक कुल छह क्षेत्रों में नोबेल पुरस्कार विजेताओं का ऐलान किया जाएगा. वहीं स्वीडिश अकादमी 2018 और 2019 दोनों ही वर्षों के लिए साहित्य नोबेल पुरस्कारों का घोषणा करेगी. 2018 में यौन उत्पीड़न के मामले में फंसने की वजह से साहित्य के नोबेल पुरस्कार को स्थगित कर दिया गया था.

loading...