भविष्य में हो सकती है कच्चे तेल में गिरावट, पूरी दुनिया को झेलनी पड़ सकती है मार…

यह स्थिति सामान्य होने के बाद बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में तेजी से गिरावट आएगी। सऊदी अरब ने कहा है कि वह मई क महीने से अपने तेज का निर्यात बढ़ा देगा।  रिकार्ड 1.06 करोड़ बैरल प्रतिदिन करेगा. अभी फिलहाल की स्थिति पर गौर करें तो आर्थिक मंदी चिंता का सबब है.

दुनिया की शीर्ष तेल निर्यातक सऊदी अरब ने कहा कि वह वैश्विक बाजार में अतिरिक्त आपूर्ति करेगा. इससे आपूर्ति और बढ़ेगी. सऊदी अरब पहले ही अप्रैल के लिये निर्यात में बढ़ोतरी की घोषणा कर चुका है. सऊदी अरब की समाचार एजेंसी एसपीए ने ऊर्जा मंत्रालय के एक अधिकारी के हवाले से कहा कि देश की मई से निर्यात में 6,00,000 बैरल प्रतिदिन बढ़ोतरी की योजना है. इससे कुल निर्यात बढ़कर 1.06 करोड़ बैरल प्रतिदिन हो जाएगा. सऊदी अरब तेल निर्यातक देशों के संगठन (ओपेक) तथा रूस समेत अन्य सहयोगी देशों के साथ समझौते के तहत करीब 70 लाख बैरल प्रतिदिन तेल का निर्यात कर रहा था.
सुप्रीम कोर्ट का सरकार को आदेश, मजदूरों को शेल्टर होम में दें सारी सुविधाएं…
खाड़ी क्षेत्र में संयुक्त अरब अमीरात पहले ही कम-से-कम 10 लाख बैरल प्रतिदिन तेल उत्पादन बढ़ाने का संकल्प ले चुका है. उल्लेखनीय है कि ओपेक और सहयोगी सदस्य देश घटती कीमतों पर अंकुश लगाने को लेकर उत्पादन में और कटौती करने पर सहमत नहीं हुए. बाजार हिस्सेदारी बढ़ाने के इरादे से सऊदी अरब ने तत्काल उत्पादन उल्लेखनीय रूप से बढ़ाकर 1.23 करोड़ टन करने और अप्रैल से निर्यात बढ़ाकर 1 करोड़ टन बैरल प्रतिदिन करने की घोषणा की. ऐसी आशंका जताई जा रही है कि तेल के दाम और नीचे आ सकते हैं क्योंकि दुनिया भर में भंडारण क्षमता लगभग पूरी होती जा रही है.
The post भविष्य में हो सकती है कच्चे तेल में गिरावट, पूरी दुनिया को झेलनी पड़ सकती है मार… appeared first on Live Today | Hindi TV News Channel.

loading...