लोकसभा चुनाव से पहले सुरक्षा इंतजाम में लगी सेंध, जंगल से बरामद हुए विस्फोटक

लोकसभा चुनाव से पहले छत्तीसगढ़ के राजनंदगांव जिले में नक्सल विरोधी अभियान के दौरान सुरक्षाबलों ने जंगल से माओवादियों द्वारा रखे सामान में एक पाईपबम और कुछ इलेक्ट्रिक डिटोनेटर बरामद किये। एक पुलिस अधिकारी ने बुधवार को बताया कि जो वस्तुएं जब्त की गयी हैं उनमें पटाखे, माओवादी बैग, वर्दी, चिकित्सा किट और अन्य नक्सल आंदोलन से जुड़ी अन्य चीजें भी शामिल हैं।

अधिकारी ने बताया कि यहां से करीब 170 किलोमीटर दूर गाटापार थानाक्षेत्र के नकटीघाटी वनक्षेत्र में मंगलवार को ये सभी समान बरामद किये गये। वहां पर राजनंदगांव, बालाघाट (मध्यप्रदेश) और गोंडिया (महाराष्ट्र) की सीमा मिलती है।
फेसबुक एकाउंट को सुरक्षित रखने के लिए करते इसका इस्तेमाल तो जरूर जान लें ये बात…
उन्होंने बताया कि आत्मसमर्पण कर चुके एक नक्सली से मिली सूचना के आधार पर छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल (सीएएफ), जिला रिजर्व गार्ड (डीआरजी) और जिला बल की संयुक्त टीम को तलाशी के दौरान जंगल में दो ड्रम मिले जिनमें एक पाईप बम, दस इलेक्ट्रिक डिटोनेटर और अन्य सामान (पटाखे आदि) रखे थे।
अधिकारियों के अनुसार नक्सली पटाखों का इस्तेमाल मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों का ध्यान भटकाने के लिए करते हैं। छत्तीसगढ़ में 11 से 23 अप्रैल के बीच तीन चरण में मतदान होगा। राजनंदगांव, महासमुंद और कांकेर सीटों पर दूसरे चरण में 18 अप्रैल को वोट डाले जायेंगे। अधिकारी के अनुसार पुलिस को संदेह है कि माओवादियों की दर्रेकासा समिति ने ये सारी चीजें छिपाकर रखी थीं। यह समिति महाराष्ट्र-छत्तीसगढ़ सीमा पर सक्रिय है।
The post लोकसभा चुनाव से पहले सुरक्षा इंतजाम में लगी सेंध, जंगल से बरामद हुए विस्फोटक appeared first on Live Today | Hindi TV News Channel.

loading...