30 साल की लड़की को 8 साल की समझ लिया गोद, फिर जो हुआ वो जानकर उड़ जाएगे आपके होश…

एना ने कहा कि वह इन आरोपों के बारे में जानकर हैरान हैं और उसने खुलासा किया है कि बच्ची के विकलांग होने के कारण लड़की को गोद दे दिया था. उन्होंने दावा किया कि उनकी मां और डॉक्टरों दोनों ने उनसे कहा था कि वह बच्ची को छोड़ दें और अपना जीवन बर्बाद न करें और जानती थी कि वह उस बच्ची को पाल नहीं पाएगी.

एना ने बताया कि जन्म के समय नटालिया को यह कहते हुए छोड़ दिया कि उसके छोटे पैर, छोटी छोटी भुजाएं हैं. उसकी गर्दन नहीं थी. उन्होंने कहा कि मैंने उसके बाद अपनी बच्ची को नहीं देखा. उन्होंने कहा कि वह बच्ची कभी सही नहीं होती उसे कुर्सी या बिस्तर से बांध रखना पड़ता. एना ने कहा कि उन्हें लगता था कि उनकी बच्ची अमेरिका में बहुत अच्छे से रह रही है.
मुझे लगता था कि सब कुछ बिल्कुल सही है. लेकिन अब मुझे ये सब पता चला. अब वह चाहती हैं कि जब वह 18 साल की हो जाए तो उसे मनाकर वापस यूक्रेन ले आएं.
अकेला छोड़कर चले गए थे मां-बाप
नटालिया अब 36 साल के ईसाई पादरी एंटोन मैन्स और उनकी पत्नी सिंथिया और उनके पांच बच्चों के साथ इंडियाना, अमेरिका में रहती हैं. अभियोजकों का दावा है कि बर्नेट्स उसे फ्लैट में अकेला छोड़कर कनाडा में शिफ्ट हो गए, इससे पहले उन्होंने कानूनी तौर पर उसकी उम्र 22 करवा दी.
क्रिस्टीन ने दावा किया था कि नटालिया वयस्क है और वह उनके परिवार को मारना चाहती है. उन्होंने बताया कि वह 2010 में उससे पहली बार मिले थे, वह यूक्रेन से थी और उन्हें लगा कि वह अनाथ है इसलिए उन्होंने उसे गोद ले लिया. हालांकि डॉक्टरों ने उसकी उम्र 8 साल बताई थी लेकिन फिर भी क्रिस्टिन को इस पर शक था.
उन्होंने बताया कि नटालिया ने उन्हें जहर देने की कोशिश की और उनके बच्चों को मारने की भी धमकी दी. उन्होंने डेलीमेल टीवी को बताया कि वह ऐसा कहती थी कि उन सब को मार डालेगी और ऐसी तस्वीरें बनाती थी जिससे साफ दिखता था कि वह उन्हें मारना चाहती है. इतना ही नहीं वह उन्हें कंबल में लपेटकर घर के पीछे छोड़ आती थी.
कई बार की मारने की कोशिश
क्रिस्टीन ने बताया कि वह आधी रात में उन लोगों के बीच में आकर खड़ी हो जाती थी. इस तरह कि वह लोग सो नहीं पाते थे. क्रिस्टीन ने बताया कि उन्होंने घर के सारे धारदार हथियार छिपा दिए थे.
क्रिस्टीन ने बताया कि मैंने उसे अपनी कॉफी में केमिकल, ब्लीच और विंडेक्स जैसा कुछ मिलाते हुए देखा, जब मैंने उससे पूछा कि वह क्या कर रही है तो उसने कहा कि वह मुझे मारना चाहती है. उन्होंने ये भी दावा किया कि नटालिया ने शीशों पर खून फेंका और चलती गाड़ी से कूदने की कोशिश की.
बच्ची में थे वयस्कों वाले लक्षण
क्रिस्टीन ने बताया कि उन्हें तब शक होना शुरू हुआ जब उन्होंने देखा कि नटालिया को पीरियड्स हो रहे हैं और वह उन्हें छिपाने की कोशिश कर रही है. इसके बाद कई अन्य बदलावों के बारे में जानने के बाद वह उसे अपने फैमिली डॉक्टर के पास लेकर गई जहां उन्हें मालूम हुआ कि लड़की की उम्र 14 साल से ज्यादा है. इतना ही नहीं उसने 2012 में क्रिस्टीन को बर्थडे पार्टी के दौरान बिजली के करंट से मारने की कोशिश भी की.
झूठी थी जन्म की तारीख
नटालिया को राज्य के मनोचिकित्सा यूनिट में भर्ती कराया गया था क्योंकि वह कथित तौर पर दूसरों के लिए खतरा बन गई थी. जहां उसने एक नर्स को बताया कि उसकी उम्र 18 साल है. 2012 में लिखी गई डॉक्टर की एक चिट्ठी के मुताबिक नटालिया की 2003 की जन्म की तारीख झूठी है. इससे पहले माइकल क्रिस्टीन ने आरोप लगाया था कि बच्ची की उम्र 30 साल है. जिससे उसकी असली मां एना ने गलत बताया था. नटालिया ने जीवन भर बच्ची की तरह नाटक किया. ये जानकारी मिलने के बाद बर्नेट्स ने उसे वहीं एक किराए के मकान में छोड़ दिया और कनाडा शिफ्ट हो गए.
पुलिस को नटालिया फ्लैट में मिली और उसने उन्हें बताया कि जबसे उसके परिवार वाले उसे छोड़कर गए हैं वह उनसे नहीं मिली है. पांच साल की जांच के बाद, पिछले हफ्ते इस दंपति पर एक आश्रित को छोड़ने के दो मामलों का आरोप लगा है. हालांकि क्रिस्टीन ने इस आरोपों ने इंकार किया है और कहा है कि ये अडॉप्शन गलत था.
The post 30 साल की लड़की को 8 साल की समझ लिया गोद, फिर जो हुआ वो जानकर उड़ जाएगे आपके होश… appeared first on Live Today | Hindi TV News Channel.

loading...